INDIA VS AUSTRALIA 2nd T20I INDIA WON BY 6 Wicket

INDIA BEAT AUSTRALIA IN 2nd T20I

India Won The Series Against Australia 2-0 भारत ओर ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले गए दूसरे T20I मैच में भी एक शानदार जीत हासिल करली है और सीरीज में 2-0 कई अजेय लीड पाली है। इसी के साथ भारत ने अब लगातार 9 T20I मुकाबले जीत लिए है।



भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रविवार के दिन दूसरा T20I मैच खेला गया था और इस मैच में भारत ने 6 विकेट से एक रोमांचक जीत हासिल करके इस T20 सीरीज को अपने नाम कर लिया है। ओर 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है। इसी के साथ भारत ने अब T20I मैचों में लगातार अपनी 9वी जीत हासिल करली है। T20I में लगातार सबसे ज्यादा मैच जीतने का रिकॉर्ड अफ़ग़ानिस्तान के नाम है। इन्होंने 2018-19 में सबसे ज्यादा लगातार 12 मैच जीतने का रिकॉर्ड बनाया था।

ऑस्ट्रेलिया में दूसरा सबसे बड़ा टारगेट किया चेज

दूसरे T20 मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीत ओर पहले बॉलिंग करने का फेसला लिया। पहले बेटिंग करने आई ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 194 रन बना दिये। ओर भारत को जीतने के लिए 195 रनो का टारगेट दिया। भारत ने इन रनो का पीछा करते हुए 19.4 ओवर में 4 विकेट खोकर यह टारगेट को चेज कर लिया। और यह टारगेट ऑस्ट्रेलिया में दूसरा सबसे बड़ा रन चेज था। सबसे बड़ा रन चेज भी भारत के ही नाम है जोकि 2016 में भारत ने इसी मैदान पर बनाया था। वह मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को 198 रनो का टारगेट दिया था। जिसे भारत ने 20 ओवर में 200 रन बनाकर चेज कर लिया था।

बने कहि रिकॉर्ड

इस दूसरे मैच को जीतने के साथ कही रिकॉर्ड भी भारत ने बनाये। यह दूसरा मैच जीतने के बाद भारत ऐसी टीम बन गई है जिसने 12 साल से ऑस्ट्रेलिया में T20I सीरीज नही हारी। यह मैच जीतने के साथ ही भारत ने विदेशी जमीन पर लगातार 10 मैच जीत लिए है। शिखर धवन ने इस मैच में 52 रनो की पारी खेली ओर इसी के साथ वह भारत के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बाए हाथ के बैट्समैन बन गए है। इससे पहले यह रिकॉर्ड सुरेश रैना के नाम था। चहल ने इस मैच में स्टीव स्मिथ की विकेट हासिल की ओर इसी के साथ उन्होंने भारत के सबसे सफल T20I बॉलर जसप्रीत बुमराह की बरोबरी करलिबे है। दोनों ने ही 59-59 विकेट ली है।

दोनों टीम ने प्लेइंग इलेवन में बदलाव किये

दोनों ही टीम ने अपनी प्लेइंग इलेवन में बदलाव किए थे। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच पूरी तरह से स्वस्थ ना होने के कारण वह यह मैच नही खेले थे। और मैथ्यू वेड को कप्तान बनाया गया था। मिचेल स्टार्क भी पर्सनल रीजन के चलते घर वापस लौट गए थे। और जोश हेजलवुड को भी आराम दिया गया था। यह तीनो की जगह पर मार्कस स्टोइनिस, एंड्यू टाय ओर डेनियल सेम को खिलाया गया था। वही भारत ने चोटिल जडेजा की जगह चहल, महोमद शामी को आराम देकर शार्दूल ठाकुर को मौका दीया था। और मनीष पांडे की जगह पर श्रेयस अय्यर को खिलाया गया था।

मैच की पूरी जानकारी

टॉस:- दूसरे मैच में भारत ने टॉस जीत था ओर पहले बोलिंग करने का फैसला लिया था।

ऑस्ट्रेलिया की विस्फोटक शुरुआत:- टॉस हार ने के बाद पहले बैटिंग करने आई ऑस्ट्रेलियाई टीम के ओपनर कप्तान मैथ्यू वेड ने विस्फोटक शुरुआत की ओर पावर प्ले में 1 विकेट के नुकसान पर 58 रन बना दिये थे। मैथ्यू वेड ने 32 बॉल पर 10 चौके और 1 छक्के की मदद से 58 रनो की पारी खेली।

स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, मोइजेस हैनरिक्स ओर स्टोइनिस ने अच्छी बैटिंग की

मैथ्यू वेड के रन आउट होने के बाद स्टीव स्मिथ ने 38 बॉल पर 46 रनो ओर ग्लेन मैक्सवेल ने 13 बॉल पर 22 रनो की पारी खेली। मोइजेस हैनरिक्स ने 26 रनो की पारी खेली। अंत मे मार्कस स्टोइनिस ने 7 बॉल पर 16 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया को 194 रन पर पहोंचा दिया। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बैटिंग करते हुए  20 ओवर में 194 रन बना दिये।

T.नटराजन ने 2 विकेट झटके, चहल ओर ठाकुर को 1-1 विकेट मिले

युवा T.नटराजन ओर भी प्रभावित करते जा रहे उन्होंने आज भी यह मैच में जहां सभी बॉलर मार खा रहे थे वहां इन्होंने 4 ओवर में सिर्फ 20 रन देकर 2 विकेट लिए। वही शार्दूल ठाकुर और चहल ने 1-1 विकेट अपने नाम किये।

राहुल और धवन की शानदार शुरुआत

195 रनो का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के बैट्समैन के एल राहुल और शिखर धवन ने भारत को एक शानदार शुरुआत दी और पावर प्ले में 60 रन बना दिये। इस दौरान पावर प्ले की आखरी ओवर में के एल राहुल एंड्यू टाय का शिकार बने वह 22 बॉल में 2 चौके और 1 छक्के की मदद से 30 रन बनाकर आउट हुए।

शिखर धवन ने अर्धशतकीय पारी खेली

195 रनो का पीछा करते हुए शिखर धवन ने शानदार अर्धशतकीय पारी खेली। यह उनके करियर का 11वा अर्धशतक था। इस पारी में उन्होंने 4 चौके और 2 गगनचुंबी छक्के लगाए। एक अच्छी शुरुआत देंने के बाद वह 36 बॉल पर 52 रन बनाकर एडम जेम्पा की बॉल पर आउट हो गए।

विराट कोहली ने मैच को पकड़े रखा

रनो का पीछा कर रहे हो और विराट कोहली रन ना बनाये ऐसा थोड़ी हो सकता है। इस मैच मेभी विराट कोहली ने 24 बॉल पर 2 चौके और 2 छक्के की मदद से 40 रनो की पारी खेली। वह पावर प्ले मे ही बेटिंग करने आगए थे और 17वे ओवर तक उन्होंने मैच को पकड़ के रखा और फिर 17वे ओवर में बड़ा शॉट खेल ने के चक्कर में डेनियल सेम के बॉल पर कैच आउट हो गए। 

हार्दिक पंड्या ने फिर से दिखाया अपना पावर

भारत को आखरी तीन ओवर में 36 रन बनाने थे तभी श्रेयस अय्यर ने एडम जेम्पा के ओवर की आखरी दो बॉल पर छक्का ओर चौका लगाकर थोड़े रन कम कर दिए। लेकिन फिर आखरी 9 बॉल पर 23 रन बनाने थे फिर हार्दिक पंड्या अपना पावर दिखाया और जड़ दिए 2 चौके और आखरी ओवर में 2 छक्के ओर 19.4 ओवर मे ही मैच खतम कर दिया। ओर भारत को यह सीरीज भी जीता दी। मैंन ऑफ द मैच भी हार्दिक पंड्या बने। इस सीरीज का आखरी मैच 8 दिसम्बर को इसी मैदान में खेला जाने वाला है।