India Vs England Test Series, 2021, India Vs England 2nd Test Day 4 Stump

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच का चौथा दिन हुआ समाप्त। चौथे दिन भी बना रहा इंग्लैंड का दबदबा। 55 रन पर भारत ने गवाए थे 3 महत्वपूर्ण विकेट।   अजिंक्य रहाणे ओर चेतेश्वर पुजारा ने शतकीय पार्टनरशिप करके भारत को मैच मे वापस लाए। पुजारा ने 45 ओर रहाणे ने 61 रनो की पारी खेली। मार्क वुड के बाउंसर ट्रेप में फaसा भारत। इंग्लैंड की 27 रन की लीड काटते काटते भारत ने अपने दोनों ओपनर गवा दिए। दूसरे सेशन में वापसी करने के बाद तीसरे सेशन में भारत ने फिर से गवाए 3 विकेट। दिन खतम होने तक भारत ने 6 विकेट गवाकर 181 रन बनाए है ओर 154 रनो लीड बनाई है।


भारत और इंग्लैंड के बीच चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में चौथे दिन भी इंग्लैंड का दबदबा बना रहा। चौथे दिन की शुरूआत से ही भारत की दूसरी पारी की शुरुआत हुई थी और इस बार भारतीय ओपनर भारत को अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे 18 रन के स्कोर पर ही भारत को के एल राहुल के रूप में पहला विकेट गवाना पड़ा इसके बाद इंग्लैंड की 27 रन की लीड तक पहुचने के बाद जब स्कोर बराबर हो गया तभी रोहित शर्मा पुल शॉट खेलकर मोइन अली के हाथ मे कैच थमा बैठे और आउट हो गए। इसके बाद विराट कोहली ने आकर कुछ आक्रमक शॉट खेले लेकिन वह ज्यादा देर तक टिक नही पाए और 55 रन पर भारत को तीसरा विकेट भी गवाना पड़ा। इंग्लैंड में पहले सेशन में 3 महत्वपूर्ण विकेट लेकर सेशन अपने नाम किया। इसके बाद दूसरे सेशन में अजिंक्य रहाणे ओर चेतेश्वर पुजारा ने एक पार्टनरशिप बिल्ड की भारत ने 24वे ओवर में तीसरा विकेट गवाया था इसके बाद चौथा विकेट 72.4 ओवर के बाद गवाया यानी कि इन दोनों ने मिलकर तकरीबन 50 ओवर तक पार्टनरशिप बनाये रखी। दूसरे सेशन में भारत ने एक भी विकेट नही गवाया था लेकिन भी तीसरा सेशन आधा खतम होने के बाद चेतेश्वर पुजारा 45 रन बनाकर आउट हुए उनके आउट होने के बाद दिन खतम होने तक भारत ने ओर 2 विकेट गवा दिए और इंग्लैंड ने इस मैच में वापसी कर ली है। भारत ने इस समय 6 विकेट के नुकसान पर 181 रन बनाए है और 154 रनो की लीड बनाई हुई है। यहां से भारत कमसे कम 60-70 रन ओर ऐड करना चाहेगा।


के एल राहुल, रोहित शर्मा, विराट कोहली और रविंद्र जडेजा रहे फेल


भारत के लिए इस सीरीज में अभी तक सिर्फ दो ओपनर ही अच्छे फोम में नजर आए है लेकिन इस पारी में वह दोनो भी फ्लॉप रहे। राहुल ने 30 बॉल पर सिर्फ 5 रन बनाए और आउट हो गए इसके बाद रोहित शर्मा अच्छे मूड में दिख रहे थे उन्होंने दो चौके और पूल शॉट पर एक छक्का भी बटोरा लेकिन फिर से वही पूल शॉट खेलने से खुद को रक नही पाये ओर मोइन अली के हाथ मे कैच थमा बैठे। इसके बाद विराट कोहली बैटिंग करने के लिए आये और उन्होंने कुच्छ खूबसूरत शॉट लगाए लेकिन फिर वह भी सेम करन की बाहर जाती हुई बॉल को छेड़ बैठे और आउट हो गए। विराट कोहली लगातार वही चौथे पाचवे स्टंप्स की लाइन वाली बॉल को खेल बैठ ते है और आउट हो जाते है। उन्होंने 31 बॉल पर 4 चौके की मदद से 20 रन बनाए। भारत के किए रविंद्र जडेजा ने भी इस सीरीज में अहम योगदान दिया है लेकिन इस मैच में वह भी कुच्छ खास नही कर पाए और 3 रन बनाकर मोइन अली की बॉल पर बोल्ड हो गए।


चेतेश्वर पुजारा ओर अजिंक्य रहाणे ने रखा रंग


भारत ने पहले ही सेशन में अपने 3 महत्वपूर्ण विकेट गवा दिए थे। इसके बाद चेतेश्वर पुजारा ओर अजिंक्य रहाणे ने अपना धैर्य दिखाया और बताया कि क्रीज पर कैसे ठहरा जाता है। इन दोनो बैट्समैन ओर काफी दबाव था क्योंकि पिछले एक दो साल से लगातार इनके रनो में गिरावट आरही है। लेकिन चेतेश्वर पुजारा ओर अजिंक्य रहाणे ने आखिरकार अपना रंग दिखाया और भारत को बहेतर स्थिति में ले गए। इन दोनों ने मिलकर तकरीबन 50 ओवर खेले जसमे 100 रन बनाए क्योकि यह दोनों फोम से जूज रहे थे और विकेट बचाकर खेलना जरूरी था इस लिए उन्होंने पुरा टाइम लेकर खेला। चेतेश्वर पुजारा ने 206 बॉल खेली ओर 45 रन बनाए वही अजिंक्य रहाणे ने 146 बॉल खेले ओर 61 रन बनाये। इन दोनों बैट्समैन ने रन बनाए यह भारत के लिए अच्छे संकेत है। इस मैच में भलेही वह आउट हो गए लेकिन उनके फोम में वापस आने से भारत को आगे सीरीज में काफी फायदा होने वाला है।


मार्क वुड के बाउंसर ट्रेप में फसा भारत


मार्क वुड ने बाउंसर ट्रेप बिछाया ओर उसमे भारतीय बैट्समैनों को फसा दिया। पहले उन्होंने के एल राहुल को आउट किया जोकि ज्यादा छोटी बॉल तो नही थी लेकिन उछाल के कारण बैट को छू कर चली गयी और राहुल आउट हो गए। इसके बाद रोहित शर्मा को भी मार्क वुड ने बाउंसर डाला और रोहित शर्मा ने उस पर छक्का जड़ दिया। लेकिन फिर मार्क वुड ने जाल बिछाया जहाँ पर छक्का गया था वही पर एक फील्डर रख दिया और फिर उसी ओवर में एक ओर बाउंसर डाला और रोहित शर्मा अपने आप को पूल शॉट खेलने से नही रोक पाए और वही पर खड़े फील्डर को कैच थमा बैठे। भारत अच्छी स्थिति में था पुजारा ओर रहाणे के बीच शतकीय पार्टनरशिप भी हो चुकी थी लेकिन तभी मार्क वुड का एक ओर बाउंसर चेतेश्वर पुजारा की विकेट लेकर चला गया। बॉल पिच ओर गिरने के बाद अचानक से बहोत ज्यादा उछली ओर पुजारा को चकित कर दिया। इस तरह मार्क वुड ने तीन विकेट अपने नाम किए।


मोईन अली ने 2 ओर सेम करन ने 1 विकेट लिया


मोईन अली ने भी अपने स्पिन में भारतीय बैट्समैनों को फसाया ओर दो विकेट अपने नाम किए उन्होंने सेट बैट्समैन अजिंक्य रहाणे को 61 रन पर चलता किया और फिर रविंद्र जडेजा को 3 रन पर बोल्ड किया और 2 विकेट अपने नाम किए। सेम करन ने एक ही विकेट लिया लेकिन वह सबसे बड़ी मछली को अपने जाल में फसाकर गए। उन्होंने भारतीय कप्तान विराट कोहली को 20 रन पर आउट किया।


पांचवे दिन ऋषभ पंत पर रहेंगा दारोमदार


भारत के लिए पाचवे दिन ऋषभ पंत पर रहेंगा दारोमदार अगर भारत को यह मैच जीतना है या ड्रॉ करवाना है तो ऋषभ पंत भारत के सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी रहेंगे। क्योकि एक तरफ वह बैटिंग कर रहे है और दूसरी तरफ इशांत शर्मा है। ऐसे में जो कूछ भी करना है वह ऋषभ पंत को ही करना है। अगर वह भारत की लीड को 200 या 200 के पार पहुचा देते है तो भारत यह मैच हार ने से बच सकता है। और अगर इंग्लैंड इसे आक्रमक खेलकर चेस करना चाहे तो आउट होने की भी संभवना है। पाचवे दिन कुछ भी हो सकता है। टीम 100 रन ओर ऑल आउट भी हो सकती है और पुरे दिन खेल भी सकती है। ओर ऋषभ पंत वह बैट्समैन है जोकि एक सेशन मेही पूरे मैच का रूख बदल सकते है। अगर वह एक अच्छी पारी खेल जाते है तो इंग्लैंड को जीतने का कोई मौका नही मिलेगा।


●अजिंक्य रहाणे ओर चेतेश्वर पुजारा के बीच चौथे विकेट के लिए शतकीय पार्टनरशिप हुई। जोकि लॉर्ड्स के मैदान पर भारत की ओर से पहली चौथे विकेट के लिए शतकीय पार्टनरशिप है।


●चेतेश्वर पुजारा 45 रन बनाकर मार्क वुड का शिकार बने जोकि टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। इससे पहले भारत ने तकरीबन 50 ओवर से एक भी विकेट नही गवाया था लेकिन उनके आउट होने के बाद भारत ने सेट अजिंक्य रहाणे ओर रविंद्र जडेजा का भी विकेट गवा दिया। अगर वह आउट नही होते तो शायद कोई और भी आउट नही होता। इस लिए उनका यह विकेट टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ।


●चेतेश्वर पुजारा ओर अजिंक्य रहाणे की पार्टनरशिप ने भारत को अभीतक हार से बचाए रखा है। क्योकि एक समय पर 50 रन पर तीन विकेट गिर गए थे अगर वहां पर यह पार्टनरशिप नही बनती तो शायद भारत ऑल आउट भी हो जाता और इंग्लैंड को जो रन चेस करने मिलते वह चेस भी कर लेता।


अब पाचवे दिन भारत जितना हो सके उतना बड़ा स्कोर बनानां चाहेंगा ओर इंग्लैंड जल्द से जल्द बाकी के चार विकेट लेकर जो स्कोर चेस करने मीले उसे चेस करना चाहेगा। इस समय तो इंग्लैंड के पलड़ा भारी है लेकिन जबतक भारत की बैटिंग समाप्त नही होती तबतक कुछ कह नही सकते। आखरी दीन मैच में कुछ भी हो सकता है।